वो जल्द ही एनसीए से इस्तीफा देंगे और वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया के कोच की जिम्मेदारी संभालने लगेंगे।

डेली जनमत न्यूज डेस्क। टीम इंडिया (INDIA) के कोच रवि शास्त्री (RAVI SHASTRI) का  कार्यकाल खत्म हो रहा है। ऐसे में लोगों के  बीच सबसे बड़ा सवाल बना हुआ था कि शास्त्री के  बाद कोच की जिम्मेदारी कौन संभालेगा। लेकिन अब इन सवालों पर विराम लग गया है और मीडिया रिपोर्ट में अगला कोच राहुल द्रविड़ के बनने  का दावा किया जा रहा है। मीडिया रिपोर्ट में दावा किया जा रहा है कि राहुल कोच की जिम्मेदारी संभालने के लिए तैयार हो गए हैं। वो जल्द ही  एनसीए से इस्तीफा देंगे और वर्ल्ड कप के बाद टीम इंडिया के कोच की जिम्मेदारी संभालने लगेंगे। हालांकि  बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव  गांगुली या अन्य किसी बीसीसीआई अधिकारी की तरफ से इसकी कोई जानकारी  नहीं  दी गई है।

धोनी को भी मिल सकती है बड़ी जिम्मेदारी

सीएसके के  कप्तान एमएस  धोनी को टी-20 वर्ल्डकप में बतौर मेंटॉर नियुक्त किया गया है। धोनी ने अपनी कप्तानी में आईपीएल में सीएसके को जिताया है। वर्ल्ड कप में भारत का प्रदर्शन अगर बेहतर रहता है और टीम खिताबी जीत हासिल कर लेती है तो धोनी को टीम इंडिया में बड़ी जिम्मेदारी मिल सकती है।

द्रविड़ हुए तैयार, पारस को भी जिम्मेदारी

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, दुबई में अध्यक्ष सौरव गांगुली और सचिव जय शाह ने द्रविड़ के साथ बैठक की और उन्हें टी-20 विश्व कप के बाद टीम के साथ जुड़ने को कहा। द्रविड़ 2023 वर्ल्ड कप तक टीम के कोच बने रहेंगे। द्रविड़ के अलावा पारस म्हाम्ब्रे को गेंदबाजी कोच चुना गया है। उनका कार्यकाल भी 2023 के वर्ल्ड कप तक होगा।

अभी ऐलान नहीं किया गया नाम

आईपीएल के दौरान भारतीय क्रिकेट फैंस के  बीच सबसे बड़ा सवाल नए कोच को लेकर ही था। फाइनल मुकाबले में केकेआर पर सीएसके  की  जीत के साथ ही इन सवालों पर विराम लग गया है। हालांकि आधिकारिक तौर पर राहुल द्रविड़ के नाम का ऐलान नहीं  किया गया है। द्रविड़ अभी नेशनल क्रिकेट अकादमी के अध्यक्ष हैं। गेंदबाजी कोच के तौर पर द्रविड़ के साथ कई सालों से काम कर रहे पारस म्हाम्ब्रे को नियुक्त किया गया है। वह भरत अरुण की जगह टीम का हिस्सा बनेंगे। फील्डिंग कोच आर. श्रीधर के रिप्लेसमेंट पर कोई फैसला नहीं किया गया है। 

खत्म हो रहा कोचिंग कार्यकाल

आपको बता दें कि वर्ल्डकप के लिए  भारतीय टीम का ऐलान किया जा चुका है और राहुल द्रविड़ को इंटरिम कोच बनाया गया था। अब उनका नाम एक स्थायी कोच के तौर पर घोषित किया जा सकता है। बता दें, टी-20 वर्ल्ड कप के बाद शास्त्री के साथ गेंदबाजी कोच भरत अरुण और फील्डिंग कोच आर. श्रीधर का कार्यकाल खत्म हो रहा है। रवि शास्त्री 2017 से टीम इंडिया के कोच हैं। 2019 में उनके करार को बढ़ाया गया था। रवि शास्त्री और विराट के बीच टीम इंडिया ने टेस्ट में विदेशी धरती पर शानदार प्रदर्शन किए हैं।

पूरी स्टोरी पढ़िए