नीतीश की कैबिनेट में शामिल कुल 33 में से 24 मंत्रियों के पर हैं आपराधिक मुकदमें।

पटना। बिहार में राजनीति का अपराध से पुराना नाता रहा है। इसकी बानगी हर चुनाव के अलावा सरकार के गठन और मंत्रिमंडल तक में देखने को मिलती है। ऐसा ही कुछ वाकिया मंगलवार को देखने को मिला। दरअसल, नीतीश कुमार की अगुवाई वाली महागठबंधन की सरकार का विस्तार मंगलवार को हुआ।

गठबंधन की सरकार बनने के बाद मंगलवार को 31 मंत्रियों को राज्यपाल फागू चौहान ने शपथ दिलाई। पद एवं गोपनीयता की शपथ लेने वाले मंत्रियों में कुछ ऐसे चेहरे भी हैं जिनका अपराध जगत से पुराना नाता रहा है। ऐसे ही दो नामी चेहरे जिन्हें इस शपथ ग्रहण के बाद मंत्री बनाया गया। बता दें कि आरजेडी एमएलसी कार्तिकेय सिंह को कानून मंत्री बनाया गया। जबकि दूसरा नाम बसपा छोड़कर जेडीयू के विधायक और फिर मंत्री बने जमा खान का है। शपथ लेने वाले विधायकों में सबसे ज्यादा आरजेडी के 16 विधायक थे। 

किडनैपिंग मामले में शामिल हैं कार्तिकेय 

बताया जा रहा है कि राजीव रंजन की 2014 में किडनैपिंग हुई थी। इसके बाद कोर्ट ने इस मामले में संज्ञान लिया था। राजीव रंजन की किडनैपिंग मामले में एक आरोपी बिहार के कानून मंत्री कार्तिकेय सिंह भी हैं जिनके खिलाफ कोर्ट ने वारंट जारी किया हुआ है। कार्तिकेय सिंह ने अभी तक ना तो कोर्ट के सामने सरेंडर किया ना ही जमानत के लिए अर्जी दी है। 16 अगस्त को इनको कोर्ट में पेश होना था, लेकिन मंत्री पद की शपथ ली। 

 मंत्री जमा खान पर  दर्ज हैं 24 से अधिक आपराधिक मामले 

जेडीयू कोटे से मंत्री बने जमा खान की छवि बिहार और यूपी सीमा से सटे इलाकों में दबंग नेता के रूप में होती है यही कारण है कि जमा खान के उपर एक दो नहीं बल्कि 24 से अधिक आपराधिक मामले दर्ज हैं। हालांकि इनमें से अधिकांश मामलों में वो बेल पर हैं और इन आपराधिक मामलों का जिक्र जमा ने अपने हलफनामे में भी किया था। जमा खान पर आर्म्स एक्ट के अलावा हिंसा भड़काने समेत कई मामले दर्ज है। 

इन विधायकों ने ली मंत्री पद की शपथ 

नीतीश कैबिनेट में राजद के 16, जदयू के 11, कांग्रेस के 2, हम के एक और एक निर्दलीय विधायक शामिल हुए हैं। इनमें राजद से तेज प्रताप यादव, आलोक मेहता, सुरेंद्र प्रसाद यादव, रमानंद यादव, कुमार सर्वजीत, ललित यादव, समीर कुमार, चंद्रशेखर, जितेंद्र कुमार राय, अनीता देवी, सुधाकर सिंह, इसराइल मंसूरी, सुरेंद्र राम, कार्तिकेय सिंह, शहनवाज आलम, शमीम अहमद शामिल हैं। वहीं जदयू से विजय कुमार चौधरी, बिजेंद्र यादव, श्रवण कुमार, अशोक चौधरी, लेसी सिंह, संजय झा, मदन सहनी, शीला कुमारी, सुनील कुमार,मोहम्मद जमा खान, जयंत राज शामिल हुए हैं।  कांग्रेस से भी आफाक आलम, मुरारी गौतम, हम से संतोष कुमार और सुमित कुमार सिंह निर्दलीय कैबिनेट में शामिल हुए हैं। 

 

पूरी स्टोरी पढ़िए