सपा नेता के साथ उसके चार भाइयों पर भी गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है।

कौशाम्बी। प्रदेश में योगी सरकार की सत्ता वापसी के साथ ही पुलिस प्रशासन भी काफी एक्टिव दिखाई दे रहा है। इसी कड़ी में कौशाम्बी जिले में प्रशासन ने सपा नेता शबीह हैदर उर्फ मोनू के खिलाफ कार्रवाई करते हुए एक करोड़ से ज्यादा संपत्ति को कुर्क कर लिया है।  सपा नेता के खिलाफ 2018 में गैंगस्टर एक्ट का मुकदमा दर्ज किया गया था। जिस मामले में सुनवाई करते हुए जिला मजिस्ट्रेट ने एक करोड़ से ज्यादा की संपत्ति कुर्क करने का आदेश दिया था। जिस पर कार्रवाई करते हुए एडीएम और सीओ के नेतृत्व में संपत्ति को कुर्क किया गया है। 

दरअसल, मंझनपुर की चेयरमैन रही हशमी बेगम के बेटे सपा नेता शबीह हैदर मीनू पर 2018 में गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया था। जिसपर सुनवाई करते हुए जिला मस्जिट्रेट ने संपत्ति कुर्क करने का आदेश जारी किया थी। वहीं शबीह हैदर को सपा सरकार में तत्कालीन नगर विकास मंत्री रहे आजम खां का करीबी बताया जा रहा है। आजम खां काफी समय से जेल में है। ऐसे में सपा नेता पर हुई  कार्रवाई को राजनीतिक तरीके से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

सपा नेता पर संगीन धाराओं में दर्ज हैं मुकदमे

बता दें कि सपा नेता शबीह हैदर उर्फ मीनू की प्रशासन ने मंझनपुर और पाता में स्थित पांच संपत्तियों को कुर्क कर दिया है। सपा नेता पर कई थानों में गैंगस्टर एक्ट के अलावा कत्ल की कोशिश, जान से मारने की धमकी, बलवा, मारपीट, सरकारी संपत्ति को नुकसान पहुंचाने के केस हैं। सरकारी काम में बाधा डालने जैसे संगीन आरोप में मामला दर्ज है।  अधिकारियों का कहना है कि शबीह ने आपराधिक ढंग से आपराधि ढंग से संपत्ति को बनाया है। साथ ही उसने कई जगहों पर अवैध संपत्तियों का निर्माण किया था। जिसके चलते अवैध संपत्तियों को कुर्क कर दिया है। उनके चार भाइयों पर  गैंगस्टर एक्ट के तहत कार्रवाई की गई है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए