पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला है।

लखनऊ। समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने बीजपी सरकार पर जमकर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि जनता बीजेपी के झूठे वादों और फरेबी राजनीति से ऊब चुकी है। महंगाई, बेरोजगारी और भ्रष्टाचार पूरी तरह अनियंत्रित है। पुलिस निरंकुश है। किसान, युवा, गरीब, मजदूर, कर्मचारी, व्यापारी सहित समाज का हर वर्ग परेशान और त्रस्त है। शैक्षिक भ्रष्टाचार चल रहा है। बीजेपी ने कोई ऐसा काम ही नहीं किया, जिसे उसके नाम पर गिनाया जा सके। इसलिए बीजपी को सत्ता से बेदखल करने और समाजवादी पार्टी को वापस सत्ता में लाने का मन पूरी तरह से बना लिया है। इससे बीजेपी खेमे में घोर निराशा है।

अखिलेश यादव ने कहा कि हार के डर से बौखलाई बीजेपी ने समाजवादी पार्टी के खिलाफ अभद्र बयानबाजी शुरू कर दी है। छेड़छाड़ कर बने वीडियो प्रदर्शित किए जा रहे हैं। बीजेपी की दलित एवं महिला विरोधी सोच उनके प्रवक्ताओं के मुंह पर आ ही जाती है। पूर्व सीएम ने कहा कि स्वर्गीय फूलन देवी के खिलाफ अपशब्द बोलकर बीजेपी प्रवक्ता ने संपूर्ण निषाद समाज का घोर अपमान करने की कोशिश की है। शालीनता को ताक पर रखकर नए-नए नाम लिए जा रहे हैं। राजनीति में ऐसी गिरावट पहले कभी नहीं देखी गई। बीजेपी विपक्ष के प्रति पूर्णतया असहिष्णु और विद्वेषभाव से भरी है।

तीसरे सबसे गरीब राज्य होने का बनाया कीर्तिमानः अखिलेश  

नीति आयोग के गरीबी पर आए रिजल्ट कार्ड में यूपी की बीजेपी सरकार के राज में इस प्रदेश ने तीसरे सबसे गरीब राज्य होने का कीर्तिमान बनाया है। उत्तर प्रदेश को गरीबी में ढकेलने वाले क्या किसी की आय दुगनी करेंगे? यूपी टीईटी 2021 परीक्षा का पेपर लीक होने से एग्जाम रद्द होना लाखों बेरोजगारों अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। बीजेपी सरकार में पेपर लीक होना, परीक्षा व परिणाम रद्द होना आम बात है।  

जनता को भटकाने का हो रहा काम  

जनता को कोरोना संकट काल में अनाथ की तरह छोड़कर बीजेपी को जश्न मनाने में संकोच नहीं हुआ। संवेदनशून्य बीजेपी सरकार आधे-अधूरे कामों का लोकार्पण एवं शिलान्यास से जनता को भटकाने का काम कर रही है। बीजेपी सरकार ने जनता के सपनों को रौंद दिया है। सबका काम छिन गया है। अगड़े-पिछड़े, वंचित और अल्पसंख्यक समाज एकजुट होकर बीजेपी को सबक सिखाएंगे।

पूरी स्टोरी पढ़िए