विधायक इरफान सोलंकी की तीन अलग-अलग मामलों में हुई सुनवाई।

#kanpur: विधायक इरफान सोलंकी को कानपुर कोर्ट में किया गया पेश//daily janamt news

कानपुर। जाजमऊ डिफेंस कालोनी में महिला का प्लाट कब्जा करने के आरोप में जेल में बंद सपा विधायक इरफान सोलंकी की आज कानुपर कोर्ट में तीन अलग अलग मामलों में सुनवाई हुई। गैगस्टर मामले में पुल‍िस को इरफान की रिमांड म‍िल गई है।

 अगली सुनवाई के लिए 2 फरवरी की तारीख मिली है। इसी के साथ इरफान को रंगदारी के दूसरे मामले में कानपुर की अदालत में पेश किया गया। इरफान सोलंकी इस समय महाराजगंज जेल में बंद हैं।

भावुक हुए विधायक इरफान सोलंकी, बोले-जेल में बहुत तकलीफ मिल रही है

सपा विधायक इरफान सोलंकी कानपुर कोर्ट में पेशी के दौरान भावुक हो गए। मीडिया के सवाल कि जेल में आपके साथ कैसा बर्ताव हो रहा है। वो भावुक होकर बोले- मेरे साथ अन्याय हो रहा है। बहुत कष्ट दिया जा रहा। लेकिन पुलिस उन्हें ज्यादा बोलने नहीं दिया गया। सत्येंद्र नाथ त्रिपाठी की कोर्ट ने विधायक को 2 फरवरी की पुलिस रिमांड भेजा दिया है। कोर्ट में इरफान के साथ भाई रिजवान को भी पेश किया गया। इससे पहले विधायक को रंगदारी मामले में 11.45 बजे एसएमएम-3 आलोक यादव की कोर्ट में पेश किया गया। कोर्ट ने मामले की जांच के लिए 17 जनवरी तक रिमांड दी है।

13 दिन बाद विधायक आए कानपुर

इरफान को 13 दिन बाद महाराजगंज जेल से कानपुर लाया गया। सुरक्षा के मद्देनजर कोर्ट के बाहर एक कंपनी पीएसी तैनात की गई थी। इस दौरान कोर्ट के बाहर इरफान की पत्नी और मां और भतीजे मौजूद रहे। पेशी के बाद करीब 12.15 बजे इरफान को वापस महरागंज भेज दिया गया।

विधायक पर घर जलाने का है आरोप 

सपा विधायक के खिलाफ आठ नवंबर 2022 को एक महिला का प्लाट कब्जा करने की कोशिश और उसमें आगजनी के आरोप में मुकदमा दर्ज हुआ था। मुकदमा दर्ज होने के बाद सपा विधायक फरार हो गए थे और फर्जी आधार कार्ड से उन्होंने दिल्ली से मुंबई तक हवाई यात्रा की थी। मामले में भी सपा विधायक के खिलाफ धोखाधड़ी और कूटरचना की धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया था। बाद में विधायक ने अपने भाई रिजवान सोलंकी के साथ पुलिस आयुक्त आवास पर पुलिस आयुक्त के सामने आत्म समर्पण कर दिया था।

पूरी स्टोरी पढ़िए