राजस्थान के बेणेश्वर में 132 करोड़ की लागत से बनने वाले हाई लेवल पुल का कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने शिलान्यास किया।

डेली जनमत न्यूज डेस्क। कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गांधी ने 132 करोड़ रुपये की लागत से बेणेश्वर धाम में बनने वाले पूल का शिलान्यास किया। इस दौरान उन्होंने बांसवाड़ा में एक जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी सरकार देश में दो हिंदुस्तान बनाना चाहती है। एक उद्योगपतियों और दूसरा गरीब, दलित, पिछड़ों का, लेकिन हमें दो हिंदुस्तान नहीं चाहिए। हम एक हिंदुस्तान चाहते हैं। भारत के हर व्यक्ति को अपने सपने को पूरा करने का मौका मिलना चाहिए।

राहुल गांधी ने उदयपुर में कांग्रेस के नव संकल्प शिविर में भाग लेने के बाद राजस्थान के डूंगरपुर में बनेश्वर धाम में पूजा-अर्चना की। इसके बाद जनसभा को संबोधित करते हुए उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस और आदिवासियों का घनिष्ठ रिश्ता है। हम आपके इतिहास की रक्षा करते हैं। साथ ही हम आपके इतिहास को दबाना या मिटाना नहीं चाहते हैं, जब यूपीए सरकार थी तब हम आदिवासियों के लिए जमीन, जंगल और पानी की रक्षा के लिए पेसा कानून लाए थे। भूमि अधिग्रहण विधेयक जैसे कानूनों से आपके धन की रक्षा की और आदिवासियों को इसका लाभ दिलाया।

देश में दो विचारधाराओं की लड़ाईः राहुल गांधी

राहुल ने आगे कहा कि इस समय देश में दो विचारधाराओं की लड़ाई है। एक तरफ कांग्रेस की एक विचारधारा है, जो सभी की रक्षा करती है और दूसरी ओर बीजेपी की विचारधारा है जो आदिवासियों को दबाने और मिटाने का काम करती है। हम एकजुट करने के लिए काम करते हैं, वे बांटने के लिए काम करते हैं। हम कमजोरों की मदद करते हैं, वे कुछ चुने हुए उद्योगपतियों की मदद करते हैं। भारत में आज रोजगार नहीं है, महंगाई बढ़ रही है। मुझे खुशी है कि राजस्थान सरकार गरीबों और आदिवासियों के लिए काम कर रही है।

https://twitter.com/RahulGandhi/status/1526099128228499458

‘बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था पर किया हमला’

राहुल गांधी ने कहा कि राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत राज्य में एक अंग्रेजी मीडियम स्कूल खोल रहे हैं। आदिवासियों को अंग्रेजी से काफी फायदा होगा। अंग्रेजी पढ़कर वे कहीं भी रोजगार पा सकते हैं। बीजेपी सरकार ने अर्थव्यवस्था पर हमला किया है। पीएम मोदी के नोटबंदी और गलत जीएसटी लागू करने की वजह से अर्थव्यवस्था बर्बाद हो गई। आज देश में युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है। यह सरकार किसानों के खिलाफ काला कानून लाई। इस कानून से सिर्फ 2-3 कारोबारियों को ही फायदा होता।

पूरी स्टोरी पढ़िए