हरकोर्ट बटलर तकनीकी विश्वविद्यालय (एचबीटीयू) की स्थापना के 100 साल पूरे होने पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शताब्दी समारोह का उद्घाटन किया।

कानपुर। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने हरकोर्ट बटलर तकनीकी विश्वविद्यालय (एचबीटीयू) की स्थापना के 100 साल पूरे होने पर शताब्दी समारोह का उद्घाटन किया। यहां उन्होंने कानपुर के लोगों से स्वच्छता को जन आंदोलन बनाने की अपील की। उन्होंने कहा कि मैं कानपुर के लोगों का स्वभाव जानता हूं। जो ठान लेते हैं, उसे करके रहते हैं। अगले सर्वेक्षण में कानपुर देश के सबसे स्वच्छ 5 शहरों में शामिल हो।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि कानपुर से जुड़े होने के कारण मुझे यहां के लोगों से भी उम्मीदें हैं। स्वच्छता सर्वेक्षण में देखा गया कि 2016 में कानपुर 173वें से बढ़कर 21वें स्थान पर पहुंच गया। यह खुशी की बात है, लेकिन संतोष नहीं है। मुझे उम्मीद है कि कानपुर के प्रशासनिक अधिकारी इंदौर समेत देश के अन्य स्वच्छ शहरों की व्यवस्था को जाकर देखेंगे। वहां के अधिकारियों के साथ समन्वय कर कानपुर को टॉप-5 स्वच्छ शहर बनाने की पहल करें। कचरा मुक्त बनाने के लिए जनप्रतिनिधि, अधिकारी और नागरिक सभी मिलकर काम करें। राष्ट्रपति ने कहा कि मैं एचबीटीयू में आकर खुश हूं। जब मैं कानपुर आता हूं तो मुझे अपने छात्र जीवन की यादें ताजा हो जाती हैं। मैं पूर्व छात्रों से अनुरोध करता हूं कि वे जरूरतमंद छात्रों की मदद करें। 

संकल्प लेकर करना होगा कामः राष्ट्रपति 

राष्ट्रपति ने कहा कि तकनीकी शिक्षा में छात्राओं की संख्या कम है। अब समय की मांग है कि तकनीक के क्षेत्र में भी लड़कियों को प्रोत्साहित किया जाए। इससे महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा मिलेगा। मुझे बताया गया है कि नेशनल इंस्टीट्यूशनल फ्रेमवर्क में एचबीटीयू 166 नंबर पर है। 2047 तक ये देश के टॉप 25 संस्थानों में अपना नाम शामिल कर सकें। आप सबको संकल्प लेकर काम करना होगा। 

https://twitter.com/rashtrapatibhvn/status/1463753550136184833

400 किलो के विशेष समय कैप्सूल को रखा

राष्ट्रपति ने इससे पहले उन्होंने 10 मीटर नीचे 400 किलो के विशेष समय कैप्सूल में रखकर विश्वविद्यालय की 100 साल की स्वर्णिम यात्रा को सुरक्षित किया। उनके साथ राज्यपाल आनंदीबेन पटेल भी मौजूद थीं।

पूरी स्टोरी पढ़िए