विधायक के गुर्गे पर पहले से कई संगीन मामले दर्ज हैं।

कानपुर। विधायक इरफान सोलंकी का एक और गुर्गा सोमवार रात पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने उसे जाजमऊ से गिरफ्तार किया है। इरफान का गुर्गा गोलू भी महिला का घर जलाने में शामिल था। मुकदमा दर्ज होने के बाद पुलिस उसकी तलाश कर रही थी। एनबीडब्ल्यू की कार्रवाई के बाद उसके घर पर कुर्की का नोटिस चस्पा किया गया था। कार्रवाई से बचने के लिए गोलू ने खुद सरेंडर कर दिया। गोलू पूर्व पार्षद भी रह चुका है। 

ज्वाइंट पुलिस कमिश्नर आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि जाजमऊ पुलिस ने सात नवंबर को सपा विधायक इरफान और उनके भाई रिजवान समेत अन्य के खिलाफ महिला का घर फूंकने के मामले में एफआईआर दर्ज की थी। मामले की जांच कर रही पुलिस के सामने आया कि कर्नलगंज निवासी व पूर्व पार्षद मुर्सलीन उर्फ भोलू की भी अहम भूमिका रही है। जांच के दौरान उसके खिलाफ पर्याप्त साक्ष्य भी मिले। एफआईआर दर्ज होने के बाद से वह फरार चल रहा था। जाजमऊ पुलिस ने एनबीडब्ल्यू की कार्रवाई के बाद कुर्की का नोटिस भोलू के घर पर चस्पा कर दिया था। इसके बाद वह इलाके में आया तो पुलिस ने दबिश देकर उसे अरेस्ट कर लिया। अब मंगलवार को उसे कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेजा जाएगा।

कन्नौज का हिस्ट्रीशीटर और 6 मुकदमें

पुलिस की जांच में सामने आया कि पूर्व पार्षद भोलू उर्फ मुर्सलीन कन्नौज का हिस्ट्रीशीटर है। उसके खिलाफ छह गंभीर मामले पूर्व में दर्ज हैं। इरफान के लिए प्रॉपर्टी का काम करता था भोलू। कानपुर की कई साइट पर इरफान के साथ भोलू का पैसा भी लगा हुआ है।

पूरी स्टोरी पढ़िए