पीएम मोदी ने सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार दिया।

Subhash Chandra Bose की 125वीं जयंती, इंडिया गेट पर होलोग्राम मूर्ति का अनावरण

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेताजी सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण किया। सरकार ने आजाद हिंद फौज के संस्थापक सुभाष चंद्र बोस की जयंती को ‘पराक्रम दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है। वहीं, नेताजी की प्रतिमा जब तक तैयार नहीं हो जाती, तब तक उसकी जगह होलोग्राम मूर्ति उसी जगह स्थापित रहेगी।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को दिल्ली स्थित इंडिया गेट पर नेताजी सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम मूर्ति का अनावरण किया है। इस मौके पर पीएम मोदी ने 2019, 2020, 2021 और 2022 के लिए सुभाष चंद्र बोस आपदा प्रबंधन पुरस्कार भी दिया।

इस समारोह में पीएम मोदी ने कहा कि भारत मां के वीर सपूत नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जन्म जयंती पर मैं पूरे देश की तरफ से कोटि-कोटि नमन करता हूं। ये दिन ऐतिहासिक है, ये कालखंड भी ऐतिहासिक है और ये स्थान जहां हम सब एकीकृत हैं ये भी ऐतिहासिक है। पीएम ने कहा कि नेताजी ने हमें स्वाधीन और समप्रभु भारत का विश्वास दिलाया था। उन्होंने आत्मविश्वास और साहस के साथ अंग्रेजों के सामने कहा था कि मैं स्वतंत्रता की भीख नहीं लूंगा, मैं इसे हासिल करूंगा। इससे पहले रविवार सुबह पीएम मोदी ने नेताजी की 125वीं जयंती पर उन्हें श्रद्धांजलि दी। सरकार ने आजाद हिंद फौज के संस्थापक बोस की जयंती को ‘पराक्रम दिवस के रूप में मनाने की घोषणा की है।

प्रतिमा बनने तक होलोग्राम मूर्ति रहेगी स्थापित

वहीं, नेताजी की प्रतिमा जब तक तैयार नहीं हो जाती, तब तक उसकी जगह होलोग्राम मूर्ति उसी जगह स्थापित रहेगी। खास बात ये है कि 28 फीट ऊंची ग्रेनाइट से बनने वाली इस प्रतिमा को ओडिशा के प्रसिद्ध मूर्तिकार अद्वैत गडनायक बना रहे हैं। नेताजी की प्रतिमा इंडिया गेट पर बनी छतरी में लगाई जाएगी। इंडिया गेट से हाल ही में अमर जवान ज्योति को हटाकर नेशनल वॉर मेमोरियल में विलय किया गया है।

पूरी स्टोरी पढ़िए