कारोबारी की पत्नी आंचल की मौत के मामले में परिवार ने पुलिस की कार्रवाई पर सवाल उठाए हैं।

कानपुर। नामचीन सब्जी मसाला कारोबारी की पत्नी आंचल की मौत के मामले में परिवार ने पुलिस पर सवाल उठाए हैं। आंचल की मां ने आरोप लगाया कि पुलिस आरोपितों को बचाने का प्रयास कर रही है। इस केस में शुरू से ही पुलिस हीलाहवाली कर रही और अभी भी सही से जांच नहीं की जा रही है। इतना ही नहीं भाई अक्षय ग्रोवर ने बताया कि साजिश के तहत कॉल रिकॉर्डिंग व वीडियो वायरल किए जा रहे हैं, जो कि पूरी तरह से अधूरा सच है। इस पूरे मामले पर डेली जनमत न्यूज की संवाददाता अशिंका तिवारी ने आंचल के परिवार वालों से बातचीत की।  

पिता पवन ग्रोवर ने आरोप लगाया कि आरोपी सूर्यांश शादी के बाद से ही बेटी को प्रताड़ित करता था और उसे खुदकुशी के लिए उकसाता था। उन्होंने आगे कहा कि कई बार वह आंचल को पुल पर ले जाकर कूदने के लिए कहता था। उन्होंने कहा कि अब जिस तरह से खुद को बचाने के लिए ऑडियो और वीडियो को वायरल किया जा रहा है। वह बिल्कुल झूठ है। क्योंकि इस पूरे केस में आरोपितों ने खुद को बचाने के लिए यह पूरी प्लानिंग बहुत पहले से कर रखी थी।

पुलिस करती कार्रवाई तो बेटी होती जिंदा...

आंचल की मां रीना ग्रोवर ने बताया कि 12 नवंबर को पति सूर्यांश ने आंचल का पूरा जेवर चोरी कर लिया था। इस घटना की शिकायत पुलिस को फोन करने दी गई थी, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की। अगर उस समय पुलिस ने कोई ठोस कदम उठा लिया होता तो आज बेटी जिंदा होती। उन्होंने आरोप लगाया कि अभी भी पुलिस केस में लापरवाही बरत रही है। 

6 महीने तक सूर्यांश नहीं आया था मिलनेः रीना

वहीं रीना ने बताया कि आंचल के बच्चा पैदा होने के 6 महीने बाद तक मायके में रही थी। इस बीच सूर्यांश एक बार भी बच्चे आयांश और आंचल से मिलने नहीं आया था। उन्होंने आरोप लगाया कि जब भी आंचल अपने ससुराल जाती थी तो उसकी सास निशा उसे घर से वापस जाने को कहती थी। 

भाई ने परिवार की जान को बताया खतरा

वहीं अक्षय ने अपनी और अपने परिवार वालों की जान को खतरा बताया है। उनका कहना है इतना बड़ा हादसा होने के बाद भी हमारे घर पर एक भी पुलिसकर्मी नहीं हैं। पुलिस ने सुरक्षा के नाम पर एक कांस्टेबल को भेजा भी था तो वह बिना बताए ही चला जाता है। इस समय हमारा परिवार डरा हुआ है। हम सिर्फ इंसाफ चाहते हैं। उन्होंने कहा कि जिस तरह से रिकॉर्डिंग व वीडियो वायरल हो रहे हैं उससे साफ है कि सूर्यांश व उसका परिवार काफी दिनों से इसकी साजिश रच रहा था। जब हम लोग आंचल के घर पहुंचे थे तो नौकरानी ने बालकनी से बताया था कि भाभी लटक गई हैं। जैसे ही आंचल की मौत हुई वैसे ही एक के बाद एक रिकॉर्डिंग व वीडियो वायरल किए जाने लगे। साजिश के तहत कॉल रिकॉर्डिंग व वीडियो वायरल किए जा रहे हैं। हम लोगों पर दबाव बनाया जा रहा है।

पूरी स्टोरी पढ़िए