चेकिंग में पनकी के भौती फ्लाईओवर के पास पकड़ी गई संदिग्ध बोलेरो, सात लोगों से पुलिस कर रही पूछताछ।

कानपुर। शहर में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद की मौजूदगी के साथ ही ग्रीनपार्क स्टेडियम में भारत और न्यूजीलैंड के बीच क्रिकेट मैच खेला जा रहा है। जिसके चलते चप्पे-चप्पे पर पुलिस का कड़ा पहरा है। इनसब के बावजूद देर रात  किदवई नगर निवासी सर्राफा कारोबारी सुरेश वर्मा व उनके बेटे को हथियारबंद लुटेरों ने रोक लिया और गोली मारकर उनके हाथ से बैग लूटकर फरार हो गए। सूचना पर पहुंची पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया, जहां बेटे की हालत गंभीर बनी हुई है। 

एम ब्लाक किदवई नगर निवासी सुरेश वर्मा की वाई ब्लाक में गायत्री ज्वैलर्स के नाम से दुकान है। बुधवार रात करीब नौ बजे वह दुकान बंद कर रहे थे। उनके साथ 30 वर्षीय बेटा शशांक वर्मा भी था। दुकान बंद करने के बाद जैसे ही वह घूमे वैसे ही बदमाशों ने गोली चला दी। गोली लगने से दोनों घायल हो गए। इसके बाद बदमाश बैग लेकर भाग निकले। घटना की सूचना पर मौके पर पुलिस के आलाधिकारी पहुँच गए। पुलिस आयुक्त असीम अरुण, सहायक पुलिस आयुक्त आकाश कुलहरी व आनन्द प्रकाश तिवारी, डीसीपी साउथ रवीना त्यागी, एडीसीपी मनीष सोनकर ने पहुंचकर जांच शुरू की। 

सुरेश को गोली दाहिनी बाजू पर लगी और आरपार हो गई। यह देखकर सुरेश का बेटा शशांक पड़ोस की दुकान ग्लोरी बेकरी की ओर भागा। तभी बदमाशों ने शशांक को भी गोली मार दी। दोनों घायलों को रीजेंसी अस्पताल में भर्ती करवा दिया गया है। सुरेश ने पूछताछ में बताया कि बैग के अंदर एक लैपटॉप व कुछ कागज थे।

घटना के सम्बंध में पुलिस आयुक्त असीम अरुण ने बताया कि वारदात को गंभीरता से लिया जा रहा है। घटना के अनावरण के लिए 6 टीमें बनाई गई है। सीसीटीवी फुटेज से गाड़ी के भागने का रूट ट्रेस हुआ है। एक संदिग्ध बोलेरो में सात लोग पकड़े गए है उनसे पूछताछ जारी है।

पूरी स्टोरी पढ़िए