पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड ने दिए थे जांच के आदेश।

#irfansolanki: फॉरेंसिक रिपोर्ट में ज्वलनशील पदार्थ से घर में आग लगाने की पुष्टि//DJN

जांच का पुलिस कमिश्नर ने दिया था आदेश

पुलिस कमिश्नर बीपी जोगदंड के आदेश पर जले हुए घर की जांच करने फोरेंसिक एक्सपर्ट की टीम भी गई थी। घंटो जांच-पड़ाल करने के साथ ही मौके से साक्ष्य जुटाए थे। फोरेंसिक टीम प्रभारी प्रवीण श्रीवास्तव ने बुधवार को जांच रिपोर्ट जाजमऊ थाने को सौंप दी। रिपोर्ट के मुताबिक घर में आग लगाने के लिए ज्वलनशील पदार्थ का इस्तेमाल किया गया है। इसके साथ ही अन्य साक्ष्य भी मिले हैं।

NBW लेने की तैयारी में पुलिस

विधायक इरफान सोलंकी और उनके भाई रिजवान की फरारी के चलते जाजमऊ थाने की पुलिस अब एनबीडब्ल्यू लेने की तैयारी में जुटी है। अगर विधायक और उनका भाई जल्द हाजिर नहीं हुए तो गैर जमानतीय वारंट (एनबीडब्ल्यू) लेने के बाद कुर्की की प्रकिया शुरू कर दी जाएगी। 

कानपुर। सपा विधायक और उसके भाई पर महिला का घर फूंकने का आरोप है। वहीं, परिवार ने दावा किया था कि महिला के घर में आग आतिशबाजी से लगी। लेकिन बुधवार फॉरेंसिक रिपोर्ट ने पूरा मामला ही बदल दिया। फॉरेंसिक रिपोर्ट में ज्वलनशील पदार्थ से घर में आग लगाने की पुष्टि हो गई है। 

जाजमऊ डिफेंस कॉलोनी निवासी सपा विधायक इरफान सोलंकी की पड़ोसी महिला बेबीनाज ने आरोप लगाया था कि 7 नवंबर को कब्जे की नीयत से विधायक और उनके भाई रिजवान ने उनका घर फूंक दिया। वह परिवार समेत एक शादी समारोह में गईं थी। इसी का फायदा उठाकर विधायक और उनके भाई ने वारदात को अंजाम दिया। मामले में जाजमऊ पुलिस ने विधायक इरफान सोलंकी और उनके भाई के खिलाफ घर फूंकने, मारपीट, धमकी समेत अन्य गंभीर धाराओं में एफआईआर दर्ज की थी। इसके बाद विधायक की गिरफ्तारी के लिए घर पर 15 थानों की फोर्स ने छापा मारा था। विधायक मौके से भाग निकले थे।

पूरी स्टोरी पढ़िए