फिलहाल किसी भी संगठन की तरफ से हमले की नहीं ली गई जिम्मेदारी।

डेली जनमत न्यूज डेस्क। काबुल पर कब्जे के बाद अफगानिस्तान में हरदिन धमाके हो रहे हैं। एक हफ्ते के बाद कंधार स्थित एक मस्जिद में जुमे की नमाज के वक्त बम धमाके में 32 लोगों की मौत हो गई, वहीं 40 से ज्यादा नमाजी घायल हो गए। अफगान सुरक्षाबल राहत-बचाव कार्य में जुटा है। फिलहाल किसी भी आतंकी संगठन की तरफ से हमले की जिम्मेदारी नहीं ली गई है।

अफगान मीडिया के मुताबिक, कंधार प्रांत की एक मस्जिद में बड़ा धमाका हो गया। जिसमें 32 लोगों की मौत हो गई, जबकि 40 अन्य लोग जख्मी हो गए हैं। तालिबान के प्रवक्ता बिलाल करीमी ने बताया कि शिया समुदाय के लोग नमाज पढ़ रहे थे। तभी तेज धमाके से मस्जिद क्षतिग्रस्त हो गई और 32 से ज्यादा नमाजियों को अपनी जान गंवानी पड़ी है।

प्रवक्ता बिलाल करीमी ने कहा कि देश के उत्तर में इसी तरह के हमले के एक हफ्ते बाद दक्षिणी प्रांत कंधार में एक मस्जिद को निशाना बनाया गया। उन्होंने धमाके के बारे में अधिक जानकारी नहीं दी और कहा कि जांच जारी है। फिलहाल यह साफ नहीं हो सका है कि हमला किसने किया।

मस्जिद में अल्पसंख्यक शिया समुदाय के लोग आते हैं जिन्हें अक्सर इस्लामिक स्टेट समूह द्वारा निशाना बनाया जाता है।  पिछले हफ्ते, आईएस ने दावा किया कि उसकी ओर से उत्तरी प्रांत कुंदुज में एक शिया मस्जिद के अंदर एक आत्मघाती धमाका किया गया था जिसमें 100 से ज्यादा लोग मारे गए थे।

पूरी स्टोरी पढ़िए