यशवर्धन के नाम से डाक टिकट भी किया गया है जारी।

कानपुर। बचपन में जहां बच्चे अपनी दुनिया में मस्त रहते हैं। कक्षा 7वीं में  पढ़ने वाले बच्‍चे शायद ही अपने करियर के बारे में सोचते होंगे। लेकिन कानपुर का एक बच्चा जिसकी उम्र महज 11 साल है। और नाम यशवर्धन है। इस बच्चे के काम को जानेंगे तो आप भी चौक जाएंगे। यशवर्धन सिविल सेवा, एनडीए और एसएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों को कोचिंग देते हैं। यश से उम्र में कई गुना बड़े अभ्यर्थी ऑनलाइन और ऑफलाइन क्लासेस को ज्वाईंन करते हैं। 

यशवर्धन  को इतिहास विषय में रूचि है। उन्‍हें हार्वर्ड ने नन्‍हें इतिहासकार का अवार्ड भी दिया है। वे सिविल सर्विस की तैयारी करने वाले लगभग 4000 हजार विद्यार्थियों को पढ़ा रहे हैं।  

जानिए यशवर्धन के बारे में 

यश वर्धन कानपुर के लाल बंगला में रहते है। यश को प्रकृति ने ज्ञान का भण्डार दिया है। यश का जन्म 25 दिसंबर 2010 को हुआ था। वे अभी महज 11 साल के हैं और रघुकुल स्कूल के कक्षा 7 के छात्र हैं। यशवर्धन प्रतियोगी परीक्षा जैसे- सिविल सेवा- आईएएस, पीसीएस के विद्यार्थियों को भारतीय राजव्यवस्था, अंन्तरराष्ट्रीय संबंध और इतिहास-भूगोल जैसे विषयों को पढ़ाते हैं। यशवर्धन को लंदन की संस्था हार्वर्ड रिकॉर्ड ने दुनिया के सबसे छोटे इतिहासकार का दर्जा दिया है। 

यशवर्धन के नाम से डाक टिकट किया गया जारी 

वैज्ञानिकों ने जांच के उपरांत इसके बौद्धिक स्तर को सुपीरियर स्तर का पाया है। यशवर्धन का IQ  लेवल 129 है। उनके इस प्रतिभा के लिए भारतीय डाक विभाग भी सम्‍मानित कर चुका है। साथ ही यशवर्धन के नाम से डाक टिकट भी जारी किया गया है। यश को प्रतिष्ठित संस्थानों की ओर से सम्मानित भी किया जा चुका है। यशवर्धन को शिक्षा के क्षेत्र से और देश-विदेश से कई मेडल ,पुरस्कार,और प्रशस्ति पत्र भी मिल चुके हैं।

प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री को आदर्श मानते हैं यश 

यश भारत के दूसरे प्रधानमंत्री लाल बहादुर शास्त्री जी को अपना आदर्श मानते हैं। यश का कहना है कि अगर भारत को विश्वगुरु बनाना है तो उसके लिए अच्‍छे भारतीय विदेश सेवा अधिकारियों की जरुरत है। यश अभी से जर्मन और रशियन भाषा का ज्ञान अर्जित कर रहे हैं। उन्हें शिक्षा के क्षेत्र में देश विदेश से कई मेडल, पुरस्कारऔर प्रशस्ति पत्र भी प्राप्त हो चुके हैं। यश ग्रेजुएशन के बाद दिल्ली जाकर सुप्रीम कोर्ट में प्रैक्टिस भी करना चाहते हैं ।

शनिवार को सीएम योगी से यश ने की मुलाकात 

11 वर्षीय यशवर्धन ने शनिवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से मुलाकात की। परिजनों के साथ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  से मिलने पहुंचे थे । यशवर्धन को सीएम योगी ने आशीर्वाद देने के साथ ही भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी। साथ ही मुख्यमंत्री ने यशवर्धन के IQ लेवल की भी सराहना की।

 

 

पूरी स्टोरी पढ़िए