टाइप-2 शुगर के मरीजों के लिए है रामबाण इलाज।

हेल्थ डेस्क। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट्स के अनुसार तो पिछले कुछ सालों में भारत में डायबिटीज के मामले बेहद तेजी से बढ़ रहे हैं। भारत में तकरीबन 77 मिलियन लोग डायबिटीज टाइप 2 से पीड़ित हैं

डायबिटीज अब देश और दुनिया में एक बेहद गंभीर बीमारी बनकर लोगों के सामने आ रही हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट्स के अनुसार तो पिछले कुछ सालों में भारत में डायबिटीज के मामले बेहद तेजी से बढ़ रहे हैं। भारत में तकरीबन 77 मिलियन लोग डायबिटीज टाइप 2 से पीड़ित है। ऐसे में इस लाइलाज़ बीमारी को आप पूरी तरह से खत्म नहीं कर सकते सिर्फ कंट्रोल कर सकते हैं। डायबिटीज की समस्या हमारी अनहेल्दी लाइफस्टाइल और खानपान से जुड़ी है। इसलिए इसे कंट्रोल करने के लिए आप इन पत्तियों का सेवन करें इससे आप शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं।

डायबिटीज अब देश और दुनिया में एक बेहद गंभीर बीमारी बनकर लोगों के सामने आ रही हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट्स के अनुसार तो पिछले कुछ सालों में भारत में डायबिटीज के मामले बेहद तेजी से बढ़ रहे हैं। भारत में तकरीबन 77 मिलियन लोग डायबिटीज टाइप 2 से पीड़ित है। ऐसे में इस लाइलाज़ बीमारी को आप पूरी तरह से खत्म नहीं कर सकते सिर्फ कंट्रोल कर सकते हैं। डायबिटीज की समस्या हमारी अनहेल्दी लाइफस्टाइल और खानपान से जुड़ी है। इसलिए इसे कंट्रोल करने के लिए आप इन पत्तियों का सेवन करें इससे आप शुगर लेवल को कंट्रोल कर सकते हैं।

करी पत्ता का सेवन 

करी पत्ता शुगर लेवल को कंट्रोल करने में बेहद फायदेमंद है। करी पत्ते को आप सुबह-सुबह पानी के साथ हल्का बॉईल कर के पियें। फाइबर से भरपूर करी पत्ता पाचन की प्रक्रिया को स्लो कर देता है जिससे भोजन जल्दी मेटाबोलाइज नहीं होता और इस वजह से ब्लड शुगर का स्तर कंट्रोल में बना रहता है। 

तुलसी के पत्ते का सेवन

तुलसी एक औषधीय गुणों से भरपूर पौधा है। तुलसी में एंटीवायरस, एंटीफंगल, एंटीबैक्टीरियल, एंटी इन्फ्लेमेटरी, विटामिन ए, विटामिन सी और कैल्शियम जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो शरीर गंभीर बीमारियों से बचाने में असरदार है। अगर आप भी डायबिटीज से पीड़ित हैं तो तुलसी के पत्ते को पानी में उबालकर सुबह सेवन करें। ऐसा करने से आपका शुगर लेवल कंट्रोल होगा। 

कोक्टस इग्नस

कोक्टस इग्नस ऐसा पौधा है जो शरीर से शुगर को कम करने में फायदेमंद है। दरअसल, कोक्टस इग्नस डायबिटीज के मरीजों के लिए इंसुलिन की तरह काम करता है इसलिए इसे इंसुलिन के पौधे के नाम से भी जाना जाता है। डायबिटीज होने पर डॉक्टर्स मरीज को इंसुलिन का इंजेक्शन देते हैं। ऐसे में अगर आपको डायबिटीज के हल्के फुल्के लक्षण हैं तो आपकोक्टस इग्नस की पत्तियों का सेवन कर सकते हैं। 

आम के पत्ते

आम के पत्ते में विटामिन सी और फाइबर प्रचुर मात्रा में पाया जाता है।विटामिन सी और फाइबर ब्लड में शुगर और कोलेस्ट्रॉल को कम करते हैं। दरअसल, आम के पत्तों में मैंगिफेरिन एंजाइम होता है जो अल्फा ग्लोकोसिडेस को रोकने में असरदार है। इसलिए सुबह उठकर आप आम के पत्ते का पानी पियें इससे आपका शुगर लेवल मेंटेन रहेगा। 

अमरूद का पत्ता

अमरूद ही नहीं बल्कि उसकी पत्तियां भी हमारे सेहत के लिए बहुत ज़्यादा फायदेमंद होती हैं। अमरूद की पत्तियों का रस अल्फा ग्लूकोसिडेज को रोकता है। अल्फा ग्लूकोसिडेज एक प्रकार का एंजाइम है जो स्टार्च और दूसरे कार्बोहाइड्रेट को ग्लूकोज में बांटता है। ऐसे में अगर अमरुद के पत्ते को पानी में उबालकर पीने से आपका शुगर लेवल कंट्रोल में रहेगा।

पूरी स्टोरी पढ़िए