प्रधानमंत्री कोरोना के ताजा हालात और देश में वैक्सीनेशन को लेकर आला अफसरों के साथ बैठक करेंगे।

Omicron Variant: सावधान ! अभी कोरोना गया नहीं, कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर WHO ने चेताया | DJN |

डेली जनमत न्यूज डेस्क। दुनिया में कोरोना (Corona Virus) के एक नए वेरिएंट ने हड़कंप मचा दिया है। यह वेरिएंट तेजी से अपना स्वरूप बदल रहा है। इसे सबसे खतरनाक वेरियंट कहा जा रहा है। WHO ने इसे ओमीक्रॉन नाम दिया है। इसको लेकर एम्स ने अलर्ट जारी किया है। कोरोना का ये वेरिएंट दक्षिण अफ्रीका में सामने आया था। वहीं इन सभी हालात के बीच पीएम नरेंद्र मोदी ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। इस दौरान प्रधानमंत्री कोरोना के ताजा हालात और देश में वैक्सीनेशन को लेकर आला अफसरों के साथ बैठक करेंगे।

इस वेरियंट के स्पाइक प्रोटीन में करीब 30 म्यूटेशंस पाए गए हैं, इतने म्यूटेशंस कोरोना के किसी दूसरे वेरियंट में नहीं पाए गए। भारत में तबाही मचाने वाले डेल्टा वेरिएंट में केवल 2 म्यूटेशंस थे। यानि 30 म्यूटेशंस वाला यह वेरिएंट किसी को संक्रमित करता है तो उस मरीज से कोरोना संक्रमण का ऐसा विस्फोट हो सकता है, जो अब तक नहीं देखा गया है। बी 1.1.529 वैरिएंट, डेल्टा जैसे अन्य वेरिएंट्स की तरह घातक है या नहीं?

इन देशों ने लगाया बैन

ब्रिटेन, सिंगापुर और इजरायल ने दक्षिण अफ्रीका, बोत्सवाना और चार अन्य अफ्रीकी देशों से उड़ानें रोक दी हैं। जर्मनी और इटली ने भी दक्षिण अफ्रीका से ज्‍यादातर यात्रा पर बैन लगा दिया है। दक्षिण अफ्रीका ने ब्रिटेन के फैसले को जल्दीबाजी में उठाया कदम करार दिया है। उसने इस फैसले की आलोचना की है।

डब्ल्यूएचओ ने दी यह सलाह

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस वेरिएंट से निपटने के लिए शुरुआती चरणों में सावधानी बरतने की बात कही है। उसने कहा है कि बी.1.1.529 कैसे व्यवहार करता है, इसे समझने के लिए और अधिक रिसर्च की जरूरत है। डब्ल्यूएचओ की कोविड-19 तकनीकी प्रमुख डॉ. मारिया वैन केरखोव ने कम्‍प्लीट वैक्‍सीनेशन सुनिश्चित करने के महत्व को हाईलाइट किया है।

इसलिए है ज्‍यादा चिंता?

महामारी विज्ञानियों के अनुसार, ऐसा लगता है कि यह वेरिएंट वैक्सीन को चकमा दे सकता है। यह एयरबॉर्न लगता है। कारण है कि होटल के गेस्‍ट अलग-अलग कमरों में थे। नमूनों में दोनों कमरों में 87 में से 25 स्वैब में वायरस पाया गया।

पूरी स्टोरी पढ़िए