साल का पहला चंद्रग्रहण आज, जानें कितना असर डाल सकता है ये ग्रहण

न्यूजरूम, जनमत। साल 2021 का पहला चंद्रग्रहण आज 26 मई को लगेगा। यह चंद्रग्रहण देश के पूर्वोत्तर भाग में और पश्चिम बंगाल के कुछ भाग में दिखाई पड़ेगा। देश के बाकी भागों में इस ग्रहण को नहीं देखा जा सकेगा। बताया जा रहा है कि चंद्रग्रहण दोपहर 2ः18 बजे शुरू होगा, जो शाम 7ः19 बजे तक रहेगा। चंद्रग्रहण वृश्चिक राशि और अनुराधा नक्षत्र में लगेगा। इस कारण इसका ज्यादा प्रभाव इसी राशि और नक्षत्र में जन्म लेने वाले  जातकों पर पड़ेगा। ऐसे में वृश्चिक राशि केद्य मेष, मिथुन, सिंह, तुला और मीन राशि वालों को वाणी और स्वास्थ्य पर नियंत्रण रखना शुभ रहेगा। कन्या, धनु, मकर राशि के लिए शुभ परिणाम मिलेंगे।


सूतक काल प्रभावी नहीं

साल का पहला चंद्र ग्रहण उपछाया ग्रहण होने के कारण सूतक काल प्रभावी नहीं होगा। इसे अमेरिका, उत्तरी यूरोप, पूर्वी एशिया, ऑस्ट्रेलिया और प्रशांत महासागर के कुछ क्षेत्रों में देखा जा सकेगा। हालांकि भारत में चंद्र ग्रहण उपछाया की तरह ही दिखेगा। ग्रहण काल के दौरान सूतक काल मान्य न होने के कारण देश के मंदिरों के कपाट बंद नहीं किए जाएंगे। इसके साथ ही शुभ कार्यों पर भी रोक नहीं होगी। 


गर्भवती महिलाएं ध्यान दें

ज्योतिष के जानकारों का कहना है कि उपछाया ग्रहण होने के कारण गर्भवती महिलाओं पर यूं तो कोई असर नहीं होगा, लेकिन सुरक्षा की दृष्टि से गर्भवती महिलाओं को चंद्र ग्रहण के समय कुछ नियमों का पालन करना चाहिए, जिससे स्वस्थ्य शिशु पैदा हो। ग्रहण के दौरान गर्भवती स्त्रियों को तेज धार की वतुओं जैसे चाकू, कैंची, सूई आदि का इस्तेमाल करने से बचना चाहिए। मान्यता है कि इस नियम का पालन न करने पर होने वाले शिशु के किसी भी अंग को नुकसान हो सकता है।

पूरी स्टोरी पढ़िए