घर में सुख-समृद्धि के लिए विधि विधान से करें भगवान श्रीकृष्ण पूजा।

डेली जनमत न्यूज डेस्क। जन्माष्टमी का त्योहार हर साल भाद्रपद माह के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाया जाता है। धार्मिक मान्यता के अनुसार इसी दिन रोहिणी नक्षत्र में श्रीकृष्ण का जन्म हुआ था। इसलिए इसे कृष्ण जन्माष्टमी कहा जाता है। जन्माष्टमी के दिन श्रीकृष्ण के बाल स्वरूप की पूजा की जाती है और इस दिन लोग व्रत भी रखते हैं। 

श्रीकृष्ण जन्माष्टमी भाद्रपद महीने के कृष्ण पक्ष की अष्टमी तिथि को मनाई जाती है। इस बार कृष्ण जन्माष्टमी की तिथि को लेकर काफी कन्फ्यूजन है। कुछ लोग 18 अगस्त को जन्माष्टमी मनाएंगे, वहीं कुछ लोग 19 अगस्त को जन्माष्टमी मनाने की बात कर रहे हैं। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक, भादो मास की अष्टमी तिथि 18 अगस्त की रात 9 बजकर 21 मिनट पर शुरू होगी और 19 अगस्त की रात 10 बजकर 50 मिनट पर समाप्त होगी। जन्माष्टमी के दिन श्रीकृष्ण का आशीर्वाद प्राप्त करने और घर पर सुख-समृद्धि बनाए रखने के लिए श्रीकृष्ण से जुड़ी पांच चीजों की खरीदारी जरूर करनी चाहिए। इन चीजों को घर लाने से बरकत बनी रहती है।

कान्हा के लिए माखन मिश्री लाएं घर 

भगवान श्रीकृष्ण को माखन बहुत पसंद था। बचपन में वह माखन चुराकर खाते थे, इसलिए उनका नाम माखनचोर पड़ा। ऐसे में जनमाष्टमी के मौके पर कान्हा को माखन-मिश्री का भोग जरूर लगाएं।  इससे श्रीकृष्ण प्रसन्न होंगे और आशीर्वाद देंगे। 

परिवार में तरक्की के लिए लाएं बांसुरी 

बांसुरी श्री कृष्ण को सबसे प्रिय है।  बांसुरी से प्रेम होने के कारण ही श्रीकृष्ण का एक नाम बंशीधर भी है। बांसुरी के बिना कृष्ण की कल्पना भी नहीं की जा सकती। जन्माष्टमी के दिन आप लकड़ी या चांदी की छोटी सी बांसुरी जरूर खरीदें। इसे पूजा में श्रीकृष्ण को जरुर चढ़ाएं तो घर में मधुरता फैलेगी। साथ ही आपके घर में कभी भी पारिवारिक कलह नहीं होगा और दिन रात परिवार के लोगों की तरक्की होगी।

गाय-बछड़े को जन्माष्टमी पर लाएं घर 

भगवान कृष्ण ने घरती पर एक ग्वाले के रूप में जन्म लिया था और उन्हें गाय से बेहद ही लगाव था। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार गाय में गुरु ग्रह का वास होता है और इसे घर में रखना शुभ होता है। हालांकि, अब शहरीकारण के कारण यह संभव नहीं है। इसलिए कृष्ण जन्माष्टमी के दिन गाय-बछड़े की तस्वीर या मूर्ति घर में अवश्य लेकर आएं।

पूजा स्थल पर चढ़ाएं वैजयंती माला

भगवान श्रीकृष्ण हमेशा ही वैजयंती माला धारण किए हुए होते हैं। जन्माष्टमी के दिन वैजयंती माला घर लाने से आर्थिक स्थिति मजबूत होती है। माना जाता है कि वैजयंती माला में माता लक्ष्मी का वास होता है।

श्रीकृष्ण को लगाएं शहद का भोग

जन्माष्टमी के दिन घर में शहद खरीदकर लाएं और शहद से भगवान कृष्ण को भोग लगाएं। यदि आप जन्माष्टमी के दिन शहद खरीदकर उसे नियमित सभी देवी देवताओं को भोग लगाते हैं तो आपके घर में वास्तु दोष नहीं लगेगा और आप पर भगवान कृष्ण की विशेष कृपा बनी रहेगी। 

पूरी स्टोरी पढ़िए