सभी को इलाज के लिए अलग-अलग कराया गया भर्ती।

भदोही। उत्तर प्रदेश के भदोही जिले में रविवार देर शाम एक भीषण हादसा हो गया। यहां दुर्गा पांडाल में आरती के दौरान अचानक आग लग गई। देखते ही देखते पूरा पांडाल आग की लपटों में समा गया। घटना के वक्त 150 से ज्यादा लोग मौजूद थे। हादसे में 60 से ज्यादा लोग झुलस गए। अब तक तीन बच्चों समेत पांच की मौत हो चुकी है।

डीएम के मुताबिक मरने वालों में एक महिला  भी शामिल है। जैसे ही इस घटनी की जानकारी यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ को हुई तो उन्होंने अधिकारियों को तुरंत राहत पहुंचाने और घायलों के बेहतर इलाज के आदेश दिए।

सभी को इलाज के लिए अलग-अलग कराया गया भर्ती

भदोही जिला प्रशासन के मुताबिक झुलसे लोगों को वारामसी के मंडलीय अस्पताल और पांच को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। चार लोगों को इलाज के लिए प्रयागराज ले जाया गया है।  18 लोगों का इलाज औराई में ही चल रहा है। इनमें से 15 लोगों को वाराणसी जिला अस्पताल भेजे जाने की बात कही जा रही थी।  

पांडाल में आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं

प्रशासन की ओर से अभी तक पंडाल में आग लगने का कारण स्पष्ट नहीं हुआ है। कुछ लोगों का कहना है कि पांडाल में डिजिटल शो चल रहा था। उस वजह से शॉर्ट सर्किट हुआ। तो वहीं एसआईटी टीम की जांच में प्रथम दृष्टया आग लगने का कारण हाइलोजन लाइट के गर्म होकर आग पकड़ने से पाया गया है।

भीषण त्रासदी में बदल सकता था अग्निकांड

ये हादसा भीषण त्रासदी में भी बदल सकता था, क्योंकि जिस समय ये घटना हुई उस वक्त वहां पर 150 से ज्यादा लोग मौजूद थे। चश्मदीदों के मुताबिक, ये आंकड़ा ज्यादा हो सकता है। कमिश्नर के निर्देश पर पंडालों की जांच शुरू होते ही आयोजकों में खलबली मच गई है। लोग पंडालों से झालरें उतरवाने लगे हैं। 

पूरी स्टोरी पढ़िए