माघ मास में दान, उपवास और तप करने से मिलते है ये पुण्य फल।

डेली जनमत न्यूज डेस्क। हिंदू पंचांग का 11 महीना माघ आज से प्रारंभ हो गया है। इस महीने को हिंदू धर्म में काफी शुभ माना जाता है। माघ महीने में कई व्रत-त्योहार भी आते हैं। ज्योतिषाचार्यों के अनुसार, माघ मास में स्नान, दान, उपवास व तप का विशेष माना जाता है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार, माघ के महीने में प्रारंभ किए गए कार्यों को फलदायी माना जाता है। आज के दिन के पुष्य नक्षत्र होने से भूमि, भवन व सोना-चांदी आदि की खरीदारी के लिए शुभ है।

इस महीने आएंगे ये तीज-त्योहार

21 जनवरी- संकष्ठी चतुर्थी के दिन भगवान गणेश की विधि-विधान से पूजा की जाती है। इस व्रत को संतान प्राप्ति की कामना करने वालों के लिए उत्तम माना जाता है। इसके साथ ही इस व्रत से संतान के संकट दूर होते हैं।

28 जनवरी- षठ्तिला एकादशी पर तिल का प्रयोग करने से स्वास्थ्य व समृद्धि की प्राप्ति होती है। एकादशी तिथि भगवान विष्णु को समर्पित होती है।

31 जनवरी- अमावस्या के दिन स्नान-दान व तर्पण का महत्व है।

5 फरवरी- बसंत पंचमी के दिन विवाह के अबूझ मुहूर्त है। विवाह के लिए इस तिथि को बेहद शुभ माना जाता है।

16 फरवरी- माघ पूर्णिमा के दिन भगवान शिव और भगवान विष्णु की पूजा की जाती है। कहते हैं कि ऐसा करने से कष्टों से मुक्ति मिलती है।

खरमास खत्म होने के साथ ही शुभ कार्यों की शुरुआत-

शुक्रवार को खरमास समाप्त होने के साथ ही शुभ कार्यों की शुरुआत हो गई है। अब नामकरण, यज्ञोपवीत संस्कार, गृह प्रवेश आदि शुभ कार्य किए जा सकेंगे। जनवरी मास में पहला विवाह मुहूर्त 22 जनवरी को है। इसके बाद 23 जनवरी को भी विवाह मुहूर्त है।

पूरी स्टोरी पढ़िए