पत्रकारों के प्रश्नों के जवाब में सपा प्रमुख ने नाम नहीं लेते हुए कह दी बड़ी बात।

लखनऊ। यूपी टीईटी का पेपर लीक होने के बाद प्रदेश सरकार ने परीक्षाओं को रद्द कर दिया है, जिस पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव हमलावर होते हुए बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए। तभी पत्रकारों ने सपा प्रमुख से कुंडा के विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया के बारे में प्रश्न किया तो वह भड़क गए। कहा, कौन है ये मैं नहीं जानता है।

बतादें, बीतेदिनों विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया, समाजवादी पार्टी के सरंक्षक मुलायम सिंह से मुलाकात करने के लिए उनके आवास पर गए थे। दोनों ने करीब आधे घंटे तक बातचीत की। मुलायम सिंह से मिलने के बाद राजा भैया घर से बाहर आए तो पत्रकारों ने उनसे मुलाकात पर प्रश्न किया। जिस पर उन्होंने कहा था कि नेता जी के स्वास्थ्य के बारे में जानकारी लेने के लिए गया था।

मुलायम सिंह से राजा भैया से मुलाकात के बाद सोशल मीडिया में कई तरह की चर्चाए चल रही हैं। राजनीतिक पंडित भी मुलाकात को 2022 के नजरिए से देख रहे हैं। राजा भैया, मुलायम के अलावा अखिलेश सरकार में मंत्री रहे। जब मायावती ने राजा भैया पर पोटा के तहत मुकदमा दर्ज कर जेल भिजवा दिया, तब मुलायम सिंह बतौर सीएम उन पर पोटा हटा लिया था। इसके बाद मुलायम और राजा भैया परिवार के साथ अच्छे रिश्ते हो गए थे।

प्रतापगढ़ के कुंडा से निर्दलीय विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भैया ने 2018 में नई राजनीतिक पार्टी  बना ली थी। उन्होंने अपनी पार्टी का नाम जनसत्ता दल रखा था। राजा भैया के इस कदम पर सपा प्रमुख ने इशारों-इशारों पर घेरा था। सपा से जुड़े नेताओं ने 2018 में कहा था कि राजा भैया बीजेपी के लिए काम कर रहे हैं और सपा को नुकसान पहुंचाने के लिए नये दल का गठन किया है।

मैं नहीं जानता

पत्रकारों के राजा भैया के प्रश्न पर अखिलेश यादव के तेवर सख्त हो गए। उन्होंने कहा कि ये कौन है, इसे मैं नहीं जानता। आप बीजेपी सरकार पर बात करें। टीईटी परीक्षा का पर्चा लीक हुआ इस पर सवाल करें, जिसका हम जवाब देंगे। अखिलेश ने इस मौके पर कहा कि, यूपीटीईटी 2021 की परीक्षा का पेपर लीक होने की वजह से रद्द होना बीसों लाख बेरोजगार अभ्यर्थियों के भविष्य के साथ खिलवाड़ है। बीजेपी सरकार में पेपर लीक होना, परीक्षा व परिणाम रद्द होना आम बात है। उप्र शैक्षिक भ्रष्टाचार के चरम पर है. बेरोजगारों का इंकलाब होगा, बाइस में बदलाव होगा।

पूरी स्टोरी पढ़िए