वर्ल्ड कप का धोनी भी हिस्सा हैं। हालांकि इस बार वो बतौर खिलाड़ी नहीं, बल्कि एक मेंटॉर की भूमिका में टीम के साथ जुड़े हैं।

डेली जनमत न्यूज डेस्क। आईपीएल (IPL) में  शुक्रवार  रात खेले गए फाइनल मुकाबले में  चेन्नई (CHENNAI) ने केकेआर  को  हराकर खिताबी जीत हासिल  कर ली। बतौर कप्तान महेंद्र सिंह धोनी  ने सीएसके को चैंपियन  बना दिया। अब उनके पास विराट कोहली की कप्तानी वाली टीम इंडिया को टी-20 वर्ल्ड कप में चैंपियन  बनाने  पर नजर है। वर्ल्ड कप का धोनी भी हिस्सा हैं। हालांकि इस  बार  वो  बतौर  खिलाड़ी नहीं, बल्कि एक मेंटॉर की भूमिका में  टीम के साथ जुड़े हैं।

बीसीसीआई की मेजाबानी में वर्ल्डकप

आईपीएल टूर्नामेंट के खत्म होने के तुरंत बाद ही आइसीसी टी20 विश्व कप का शुरुआत होने जा रही है। बीसीसीआई की मेजबानी में 17 अक्टूबर के 14 नवंबर के बीच टूर्नामेंट का आयोजन यूएई और ओमान में होना है। भारत अपने अभियान की शुरुआत 24अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ करेगा। 

दो वार्मअप मैच

भारतीय टीम टूर्नामेंट में उतरने से पहले 18 अक्टूबर को इंग्लैंड के साथ और फिर 20 अक्टूबर को आस्ट्रेलिया के साथ वार्म अप मैच खेलेगी। भारत को विश्व का पहला मैच चिर प्रतिद्वंदी पाकिस्तान के खिलाफ 24 अक्टूबर को खेलना है। 31 अक्टूबर को टीम इंडिया न्यूजीलैंड के खिलाफ मुकाबला खेलेगी। इसके बाद 3 नवंबर को अफगानिस्तान के साथ भारत का मैच होगा। 5 और 8 नवंबर को भारतीय टीम टूर्नामेंट में क्वालीफायर मैच जीतकर जगह बनाने वाली टीम के साथ खेलेगी।

केकेआर के मुरीद हुए धोनी

आइपीएल में खिताबी जीत  के बाद धोनी ने कहा कि अगर कोई टीम इस साल आइपीएल जीतने की हकदार थी, तो वह केकेआर है। जिस तरह से वे खेले हैं, मुझे लगता है कि ब्रेक ने उनकी मदद की। धोनी  ने कहा कि एक अच्छी टीम के बिना आप बेहतर नहीं कर सकते। हमारे पास भी महान व्यक्ति हैं। मैं फैंस को धन्यवाद देता हूं। हम अभी दुबई में हैं। यहां तक ​​कि जब हम दक्षिण अफ्रीका में खेल रहे थे, तो हमें हमेशा समर्थन मिला। उन सभी को धन्यवाद। यह चेपॉक चेन्नई जैसा लगता है। उम्मीद है कि हम अगले साल चेन्नई के फैंस के सामने खेलने के लिए आएंगे।

27 रन हराया

आईपीएल 2021 का फाइनल मुकाबला एकतरफा दिखा, क्योंकि चेन्नई सुपर किंग्स ने कोलकाता नाइट राइडर्स को 27 रनों के बड़े अंतर से हरा दिया। पहले बल्लेबाजी करते हुए सीएसके ने पहली पारी में 192 रन बनाए जिसमें ऑरेंज कैप विजेता रितुराज गायकवाड़ और सलामी जोड़ीदार फाफ डु प्लेसिस सामने थे। गायकवाड़ ने फाइनल में 27 गेंदों में 32 रन बनाकर आईपीएल 2021 में 635 रन बनाए। वहीं डु प्लेसिस ने आईपीएल 2021 में 633 रन के साथ फाइनल में 59 गेंदों पर 86 रन बनाए।

पूरी स्टोरी पढ़िए