बताया जा रहा है कि जो माल चोरी हुआ है वो पिछले दिनों लूट की घटना में बदमाशों से बरामद हुआ था।

आगरा। सबसे सुरक्षित माने जाने वाले थाने का मालखाना भी अब सुरक्षित नहीं रहा। आगरा के जगदीशपुरा थाने के माल खाने से 25 लाख रुपये की नकदी चोरी हो गई और पुलिस को इसकी भनक भी नहीं लगी। जब इसकी जानकारी आला अधिकारियों को हुई तो उनके होश उड़ गए। वहीं एडीजी ने कड़ी कार्रवाई करते हुए छह पुलिसकर्मी निलंबित कर दिए हैं। 

आगरा के जगदीशपुरा थाने में मालखाने का बाबू सुबह साढ़े नौ बजे ड्यूटी पर आया था। उसके बाद चाय पीने चला गया। जब वह लौटकर आया तो मालखाने में रखा सामान अस्त-व्यस्त था। इसकी जानकारी आला अधिकारियों को दी गई। सूचना पाकर एसएसपी मुनिराज और एसपी सिटी विकास कुमार थाने पहुंच गए। एसपी सिटी ने बताया कि माल खाना चेक किया तो 25 लाख रुपये चोरी हो गए थे।

 फिलहाल मालखाने में रखे माल के बारे में जानकारी की जा रही है। इसमें रखे गहनों को भी देखा जा रहा है। बताया गया है कि जो माल चोरी हुआ है वो पिछले दिनों लूट की घटना में बदमाशों से बरामद हुआ था। वहीं पुलिस सीसीटीवी में थाने के फुटेज तलाश रही है। उन्होंने बताया कि फॉरेंसिक टीम अभी जांच कर रही है। अब सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि आखिर थाने के अंदर से 25 लाख रुपये कैसे चोरी हो गये।

6 पुलिसकर्मियों को किया गया निलंबित

 आगरा जोन के एडीजी राजीव कृष्ण ने कहा कि जगदीशपुरा के प्रभारी निरीक्षक अनूप कुमार तिवारी, नाइट अफसर, माल थाना प्रभारी और रात में ड्यूटी पर तैनात तीन मुंशी को निलंबित किया गया है। उन्होंने कहा कि प्रथम दृष्टया मामला नकबजनी का निकल कर सामने आया है। मालखाने के पीछे के रास्ते से चोर अंदर घुसकर आए। उन्होंने दरवाजा और खिड़की को तोड़कर अंदर प्रवेश किया। मालखाने में बक्से के अंदर नगदी रखी थी। उसका ताला तोड़कर रुपयों को निकाला गया है। टीमें लगी हैं। आसपास के सीसीटीवी फुटेज देखे जा रहे हैं।

पूरी स्टोरी पढ़िए