भारत बनाने जा रहा ये विश्व रिकॉर्ड।

नई दिल्ली। चित्तौड़गढ़ दुर्ग इस बार 14 अक्टूबर को तिरंगे की रोशनी से जगमगाएगा। आमतौर पर यह दीपावली, मीरा महोत्सव या फोर्ट फेस्टिवल जैसे खास मौकों पर ही विशेष लाइटिंग से सजता है। ऐतिहासिक 100 करोड़ कोविड वैक्सीनेशन पूरा होने पर पीएम नरेंद्र मोदी की पहल से इस जश्न की तैयारी की गई है। इसके लिये 100 प्रमुख ऐतिहासिक स्मारकों का चयन किया गया है। 

देशभर में कोविड वैक्सीनेशन का आंकड़ा 100 करोड़ होने जा रहा है। जो अपने आप में एक ऐतिहासिक क्षण होगा। इस देशव्यापी खुशी के साथ दुनिया को भी संदेश देने के लिए केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने भारतीय पुरातत्व एवं सर्वेक्षण विभाग को अपने 100 प्रमुख स्मारकों को चिन्हित करने के लिए कहा था। जिनको देश के राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे की रोशनी से जगमग किया जा सके। बताया गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ही 14 अक्टूबर को देशभर में विजय उत्सव के रूप में मनाने के निर्देश दिए थे। 

एएसआई ने पूरी की तैयारी

आदेश मिलते ही एएसआई तैयारियों में जुट गया। स्थानीय वरिष्ठ संरक्षण सहायक आरएल जितरवाल के निर्देशन में तकनीकी टीम ने यहां पहुंच कर पहले लोकेशन देखी और फिर कार्य शुरू कर दिया, जिसके तहत रोशनी का ट्रायल मंगलवार रात्रि पूरा हुआ। वैसे देश के 100 ऐतिहासिक स्मारकों पर किसी एक स्थान पर ही तिरंगा रोशनी करनी है किन्तु चित्तौड़ दुर्ग की विशालता और विशेषता को देखते हुए यहां तीन या अधिक स्मारकों का चयन किया जा रहा है। 

इन प्राचीन स्मारकों को किया गया शामिल

इसमें विजय के प्रतीक विजय स्तंभ और रायल पैलेस कुंभा महल पर तैयारी कर ली गई है। व्यू प्वाइंट की प्राचीन और पास की प्राचीन दीवार को भी शामिल किया जा सकता है, ताकि शहर में दूर-दूर से तथा हाईवे और ट्रेनों से इस तिरंगे की जगमगाहट देखी जा सके। यह अनुमान लगाया गया कि 13 या 14 अक्टूबर को 100 करोड़ वैक्सीन लग सकती है। 

कोरोना वॉरियर्स के सम्मान में पीएम का ये ऐतिहासिक फैसला 

इस पल को खास बनाने के साथ डेढ़ वर्ष से इस मिशन में जुटे कोरोना वॉरियर्स के प्रति सम्मान व्यक्त करने की ये तैयारी है। देश के 100 और राजस्थान के तीन स्थानों में चित्तौड़गढ़ शामिल किया गया है। एएसआई की ओर से चयनित 100 स्मारकों में राजस्थान में जोधपुर मंडल के अधीन चित्तौड़ और कुंभलगढ़ फोर्ट शामिल है। जयपुर मंडल में भरतपुर के डीग पैलेस को भी शामिल किया गया है।

पूरी स्टोरी पढ़िए